शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा ‘हरामखोर लड़की’ तो कंगना रनौत ने दिया करारा जवाब

0
454

मुंबई को लेकर दिए बयान के बाद फिल्म एक्ट्रेस कंगना रनौत और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच तकरार दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। कंगना ने संजय राउत की तरफ से कहे गए ‘अपशब्द’ पर अपना करारा जवाब दिया है।

कंगना रनौत ने शनिवार को ट्वीट करते हुए कहा, साल 2008 में मूवी माफिया ने मुझे एक साइको घोषित कर दिया था। इतना ही नहीं 2016 में उन्होंने मुझे एक चुड़ैल कहा और 2020 में महाराष्ट्र के मंत्री ने मुझे हरामखोर लड़की का खिताब दे दिया।

इन सभी लोगों ने मेरे साथ ऐसा इसलिए किया क्योंकि मैंने कहा कि सुशांत की हत्या के बाद मैं मुंबई में असुरक्षित महसूस करती हूं। इस वक्त डिबेट करने वाले योद्धा कहां हैं? कंगना ने ये बात एक यूजर के ट्वीट के जवाब देते हुए लिखा। यूजर ने लिखा था,

‘संजय राउत कह रहे हैं क‍ि कंगना की टीम ने श‍िवाजी महाराज के ख‍िलाफ कहा है। ये झूठ है। उन्होंने कभी भी महान श‍िवाजी के ख‍िलाफ कुछ नहीं कहा। एक महिला को सार्वजन‍िक रूप से ताकत में बैठे लोग गाली दे रहे हैं।

क्या है मामला

कंगना ने हाल ही में एक ट्वीट में सवाल किया था, ‘मुंबई, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की तरह क्यों लग रहा है?” उन्होंने 1 सितंबर की न्यूज रिपोर्ट को भी टैग किया था जिसमें संजय राउत ने कथित तौर पर कहा था कि अगर वह नगर की पुलिस से डरती हैं तो उन्हें वापस मुंबई नहीं आना चाहिए।”

कंगना ने कहा था कि उन्हें ”बॉलीवुड में ड्रग माफिया” का पर्दाफाश करने के लिए हरियाणा या हिमाचल प्रदेश पुलिस की सुरक्षा चाहिए और वह मुंबई पुलिस की सुरक्षा स्वीकार नहीं करेंगी।’ इस पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कथित तौर पर कंगना को कहा था कि अगर उन्हें मुंबई पुलिस से डर लगता है तो उन्हें यहां नहीं आना चाहिए।

इसके बाद कंगना ने ट्वीट किया था कि वह 9 सितंबर को मुंबई आ रही हैं और किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले। एक अन्य ट्वीट में कंगना ने लिखा था, ‘एक महान पिता की संतान होना ही आपकी एक मात्र उपलब्धि नहीं हो सकती, आप कौन होते हैं मुझे महाराष्ट्र प्रेम या नफरत का सर्टिफिकेट देने वाले?

आपने यह कैसे निर्धारित कर लिया की आप महाराष्ट्र को मुझसे ज़्यादा प्रेम करते हैं? और अब मुझे वहां आने का कोई हक नहीं?’ वहीं शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने कंगना को ‘मुंह तोड़ने’ की धमकी दी जिसके बाद अब इस विवाद में राष्ट्रीय महिला आयोग की भी एंट्री हो गई।

कंगना को क्लीनचिट देते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा है कि शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक की तुरंत गिरफ्तारी होनी चाहिए। उन्होंने कंगना के खिलाफ हमलावर शिवसेना की विचारधारा पर भी सवाल उठाए।